Advertisement
Monday, July 4, 2022
होमस्टोरीजफाइनेंसियलटॉप इंडियन फिनटेक स्टार्टअप्स जो निभा रहे हैं अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका

टॉप इंडियन फिनटेक स्टार्टअप्स जो निभा रहे हैं अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका

Top Indian Fintech Startups
Top Indian Fintech Startups

किसी भी बिज़नेस के लिए उसका फाइनेंसियल भाग मजबूत, सुरक्षित और तेज होना चाहिए जो बिज़नेस के साथ साथ कस्टमर के लिए भी आसान रहे और यही काम अब चंद मिनटों मै घर बैठे हो जाता है जिसका पूरा श्रेय इंडियन फिनटेक स्टार्टअप्स या फिनटेक फाइनेंसियल टेक्नोलॉजी को जाता है।

इन इंडियन फिनटेक स्टार्टअप्स के बिज़नेस मॉडल की सहायता से पैसों का लेनदेन आसानी मोबाइल बैंकिंग से कुछ मिनटों में हो जाता है। फिनटेक स्टार्टअप्स ने हमारी अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण बदलाव लाए हैं और हमारे भुगतान करने के तरीके में भी बड़े बदलाव लाए हैं। भुगतान प्रणाली ने हम सभी के व्यवसाय करने के तरीके को बदल दिया है।

यहां कुछ इंडियन फिनटेक स्टार्टअप्स हैं जो वित्त उद्योग में सुर्खियां बटोर रहे हैं और अपने अनूठे वित्तीय समाधानों के साथ विभिन्न बाजारों तक पहुंच रहे हैं।

1. Paytm

Paytm
Paytm

वर्तमान समय में भले ही लोगो को ये नहीं पता कि paytm का प्रयोग कैसे करते है पर इसका नाम सबको पता है। यह एक भारतीय कंपनी है जिसकी स्थापना Vijay Shekhar Sharma ने की थी और यह वन97 कम्युनिकेशंस के पास है और आरबीआई द्वारा अधिकृत है। पेटीएम के कई साझेदार हैं जैसे उबर, BookMyShow, फूडपांडा, मेकमाईट्रिप etc।

इसके निवेशकों में Softbank, Ant Financial, AGH Holdings, SAIF Partners, Berkshire Hathaway, T Rowe Price, and Discovery Capital शामिल हैं। पेटीएम इंश्योरेंस वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है और इसे IRDAI से ब्रोकरेज लाइसेंस प्राप्त हुआ है।

2. Razorpay

Razorpay
Razorpay

Razorpay की शुरुआत 2014 में Harshil Mathur और Shashank Kumar ने की थी। यह प्लेटफॉर्म कंपनियों को अपने उत्पादों के साथ भुगतान प्राप्त करने, संसाधित करने और भुगतान करने में मदद करता है। Razorpay आपको JioMoney, Mobikwik, Airtel Money, FreeCharge, Ola Money, और PayZapp सहित क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग, UPI और सामान्य वॉलेट सहित सभी भुगतान मोड तक पहुंच प्रदान करता है।

इसके द्वारा व्यवसायी बाज़ार को संभाल सकते हैं, पैसे के लेन-देन को आसान बना सकते हैं, नियमित शुल्क प्राप्त कर सकते हैं, ग्राहक चालान का आदान-प्रदान कर सकते हैं और एक ही मंच से कार्यशील पूंजी लोन का लाभ उठा सकते हैं।

3. Lendingkart

Lendingkart
Lendingkart

Lendingkart की स्थापना Harshvardhan Lunia और Mukul Sachan द्वारा 2014 में की गई।
Lendingkart फाइनेंस पूरे भारत में छोटे और मध्यम व्यवसायों को कार्यशील पूंजी ऋण और कंपनी ऋण प्रदान करता है। न्यूनतम दस्तावेज़ीकरण व तेज़ प्रक्रिया के साथ ये पूरी तरह से ऑनलाइन फंडिंग प्रदान करते हैं।
अभी तक अहमदाबाद, बैंगलोर और मुंबई में स्थित हैं, लेकिन पूरे भारत में काम करते हैं।

Lendingkart का लक्ष्य कैपिटल फंडिंग को अपनी उंगलियों पर सुलभ बनाना है ताकि उद्यमी अपने नकदी-प्रवाह अंतराल के बारे में सोचने के बजाय व्यवसाय पर ध्यान केंद्रित कर सकें।

4. Instamojo

Instamojo
Instamojo

Instamojo की सन् 2012 में Sampad Swain, Akash Gehani, and Aditya Sengupta ने सह-स्थापना की । Instamojo आपके व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए शुल्क एकत्र करता है, मुफ़्त ऑनलाइन स्टोर बनाता है, सामान भेजता है, ऋण देता है और बहुत कुछ करता है।

Instamojo व्यक्तिगत व्यापार टूल को इंटरनेट पर व्यवसाय के विस्तार में मदद करने की अनुमति देता है।
सूक्ष्म-उद्यमी, स्टार्ट-अप, छोटे और मध्यम आकार के व्यवसाय Instamojo का उपयोग मोबाइल के माध्यम से भुगतान, मुफ्त ऑनलाइन स्टोर, लॉजिस्टिक्स, क्रेडिट और वित्त जैसी सेवाओं  का उपयोग करके तुरंत शुरू करने, बाजार चलाने और विस्तार करने के लिए कर रहे हैं।

5. MoneyTap

MoneyTap
MoneyTap

MoneyTap की स्थापना 2015 में Bala Parthasarathy, Kual Verma, and Anuj Kacker ने की थी। MoneyTap भारत की पहली ऐप-आधारित क्रेडिट लाइन है। MoneyTap छोटे-मध्यम नकद ऋण, तेज मोबाइल क्रेडिट, प्रतिस्पर्धी ब्याज दरें और लचीली EMI प्रदान करता है। कोई भी व्यक्ति सिर्फ 15 मिनट मै अपने फोन और पेन कार्ड के माध्यम से qualifying limit चेक कर सकता है।

कुछ चीजो को छोड़कर KYC प्रक्रिया बिल्कुल पेपरलेस है। दिलचस्प बात यह है कि ब्याज दरें केवल आपके द्वारा उधार ली गई राशि पर लागू होती हैं, न कि आपकी स्वीकृत सीमा पर।
MoneyTap आरबीआई द्वारा नियंत्रित भारत में विनियमित वित्तीय संस्थानों के साथ काम करता है, और उनके पास अपना एनबीएफसी लाइसेंस भी है।

6. Policybazaar

Policybazaar
Policybazaar

Policybazaar.com भारत का सबसे बड़ा बीमा एग्रीगेटर है और दुनिया के शीर्ष फिनटेक खिलाड़ियों में से एक है। Policybazaar की स्थापना जून 2008 में गुरुग्राम में Yashish Dahiya, Alok Bansal & Avaneesh Nirjar ने की थी।

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की शुरुआत मूल्य तुलना के लिए एक वेबसाइट और बीमा संबंधित कार्यक्रमों के बारे में जानने के लिए एक ज्ञान स्रोत के रूप में हुई और यह बाद में एक बीमा पॉलिसी बाज़ार बन गया।

7. PineLabs

PineLabs
PineLabs

PineLabs की स्थापना Lokvir Kapoor, Rajul Garg, and Tarun Upaday द्वारा सन् 1998 में की गई थीं। यह ऐप आपके एनएफसी मोबाइल को कार्ड मशीन में बदल देता है और आपको सभी प्रकार के डिजिटल भुगतान स्वीकार करने की अनुमति देता है, जिसमें एक मूल ‘टैप एन पे’ कार्ड भी शामिल है।

2017 में, PineLabs ने मलेशिया में दक्षिण पूर्व एशियाई बाजारों में अपनी सेवाओं का पूर्ण स्पेक्ट्रम जारी किया। यह नेटवर्क खुदरा विक्रेताओं को भुगतान विकल्प, जोखिम मूल्यांकन, मल्टी-चैनल एनालिटिक्स, लीजिंग और बीमा, कैशबैक, स्वचालित बिलिंग, और बहुत कुछ प्रदान करने के लिए विकसित हुआ है।

PineLabs की टेक्नोलॉजी, जो कई उद्योगों के व्यापारियों द्वारा उपयोग की जाती हैं, भारत और कई अन्य एशियाई देशों में 100,000 से अधिक व्यापारियों द्वारा उपयोग की जाती हैं। अकेले भारत में, कंपनी की क्लाउड-आधारित टेक्नोलॉजी 3,700 से अधिक शहरों में 350,000 से अधिक PoS टर्मिनलों को अधिकार देती है।

8. Shiksha Finance

Shiksha Finance
Shiksha Finance

Shiksha Finance शैक्षणिक संस्थानों को भवन विकसित करने, संपत्ति खरीदने और कार्यशील पूंजी के लिए ऋण भी प्रदान करते हैं। Shiksha Finance एक शिक्षा वित्त फर्म में भारत की अग्रणी ऋण देने वाली कंपनी है।

इस संस्था का मिशन माता-पिता को स्कूल फीस के लिए धन देना है, जिससे स्कूल छोड़ने की दर कम हो। कर्ज 10,000 रुपये से 30,050 रुपये तक है जिसे 6 से 10 महीने के भीतर वापस करना होगा। छात्र ऋण का उपयोग माता-पिता द्वारा स्कूल ट्यूशन, किताबें, वर्दी, जूते, सामान आदि का भुगतान करने के लिए किया जा सकता है।

9. ZestMoney

ZestMoney
ZestMoney

ZestMoney की स्थापना 2015 में Lizzie Chapman, Priya Sharma और Ashish Anantharaman ने की थी। ZestMoney की अभूतपूर्व तकनीकों और किफायती डिजिटल वित्त उपलब्ध कराने के प्रयासों ने विश्व आर्थिक मंच के 2020 टेक्नोलॉजी लीडर के रूप में शामिल हुआ।

ZestMoney का अनूठा प्लेटफॉर्म मोबाइल तकनीकों, डिजिटल बैंकिंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को जोड़ती है, जिससे लाखों भारतीय ग्राहकों के जीवन को अधिक सुलभ बनाया जा सके।

10. ePayLater

ePayLater
ePayLater

ePayLater, अर्थशास्त्र फिनटेक द्वारा पेश किया गया एक डिजिटल भुगतान समाधान, 14-दिन की ब्याज-मुक्त क्रेडिट सीमा के साथ नियमित ऑनलाइन खरीदारों के लिए ‘अभी खरीदें, बाद में भुगतान करें’ विकल्प की अनुमति देता है। ePayLater की स्थापना Akshat Saxena, Aurko Bhattacharya, and Uday Somayajula ने की थी।

EPayLater ने IRCTC, PVR, MakeMyTrip, Yatra, EaseMyTrip, Tata Croma, Travelyaari, और कई अन्य के साथ सहयोग किया है। यह कंपनियों को अपने ग्राहकों को सेवाएं देना जारी रखने और कम इन्वेंट्री समय के माध्यम से बेहतर बिक्री उत्पन्न करने में मदद करता है।

अन्य महत्वपूर्ण स्टोरीज और सूचनाएं –

#startup #startupideas #startupfunding #startupnews #startuppodcast #startabusiness

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

सूचना-पत्र

हमारे साप्ताहिक सूचना-पत्र की सदस्यता लें और नवीनतम अपडेट्स को देखना ना भूलें।