Advertisement
Monday, December 5, 2022
होमइनसाइटफंडिंग अलर्ट एलिवेशन कैपिटल ने 670 मिलियन डॉलर इंडिया फंड VIII जुटाया

[फंडिंग अलर्ट] एलिवेशन कैपिटल ने 670 मिलियन डॉलर इंडिया फंड VIII जुटाया

टीम एलिवेशन कैपिटल
टीम एलिवेशन कैपिटल

अर्ली-स्टेज वेंचर कैपिटल फर्म एलिवेशन कैपिटल (पूर्व में SAIF पार्टनर्स) ने भारत में शुरुआती चरण की कंपनियों के साथ साझेदारी में तेजी लाने के लिए भारत के लिए अब तक का सबसे बड़ा फंड 670 मिलियन डॉलर जुटाए हैं।

कंपनी शुरुआती चरण की कंपनियों के सीड और सीरीज ए चरणों में फंडिंग पर ध्यान देना जारी रखेगी।

कंपनी वेब3 और क्रिप्टोकरेंसी जैसे उभरते विषयों के अलावा उपभोक्ता इंटरनेट, फिनटेक, सास जैसे क्षेत्रों में निवेश करने के लिए धन का उपयोग करेगी।

कंपनी ने कहा कि भारत के स्टार्टअप इकोसिस्टम में अगले दशक में 10 गुणा से अधिक बढ़ने की क्षमता है, जिसमें भारतीय टेक कंपनियां 2 मिलियन डॉलर के मार्केट कैप तक पहुंच गई हैं।

गुड़गांव स्थित एलिवेशन कैपिटल की स्थापना 2002 में रवि अदुसुमल्ली द्वारा की गई थी, यह Consumers, Enterprises, Logistics और बी 2 बी पर ध्यान देने के साथ एक प्रारंभिक चरण की वेंचर कैपिटल फर्म है।

फर्म ने एक बयान में कहा कि “एलिवेशन फंड VIII अब तक के सबसे बड़े भारत-केंद्रित उद्यम प्लेटफार्मों में से एक है, जो हमें भारतीय फाउन्डर्स की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए एक महत्वपूर्ण उत्प्रेरक के रूप में जारी रखने में सक्षम बनाता है। फंड VIII हमें एक बड़े प्रारंभिक निवेश के साथ असाधारण फाउन्डर्स के प्रति अधिक प्रतिबद्धता प्रदर्शित करने की अनुमति देगा और उनकी यात्रा में बहुत बाद तक उनका समर्थन जारी रखेगा।”

बयान में कहा गया है कि “शुरुआती चरण का निवेश वह जगह है जहां हमने अपनी ikigai को पाया है, हमारी क्षमताओं, जुनून और फाउन्डर पारिस्थितिकी तंत्र की जरूरतों का सही प्रतिच्छेदन है। फलस्वरूप हमारी निवेश गति तेज हो रही है और पिछले 12 महीनों में 100% बढ़ गई है।”

कंपनी ने एक बयान में कहा कि “एलीवेशन पर हमने भारत में जल्द से जल्द तकनीकी उद्यमियों को पोषित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। पिछले दो दशकों में हमने पूंजी के 7 पूलों में 150 से अधिक कंपनियों में लगभग 2 अरब डॉलर की पूंजी का निवेश किया है, जिसमें 13 प्रारंभिक चरण के निवेश यूनिकॉर्न बन गए हैं।”  

कंपनी ने 150 से अधिक कंपनियों में लगभग 2 बिलियन डॉलर की पूंजी का निवेश किया है। इन कंपनियों में मीशो, नोब्रोकर, अनएकेडमी, शेयरचैट, पेटीएम, स्विगी और अन्य जैसे कई बड़े नाम शामिल हैं। जुलाई 2017 में, वीसी ने अपने तीसरे भारत फंड के लिए 350 मिलियन डॉलर जुटाए हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -

Recent Comments

सूचना-पत्र

हमारे साप्ताहिक सूचना-पत्र की सदस्यता लें और नवीनतम अपडेट्स को देखना ना भूलें।