Advertisement
Friday, July 1, 2022
होमइनसाइटफंडिंग अलर्ट क्लाउड किचन स्टार्टअप Curefoods ने फंडिंग में 50 मिलियन डॉलर जुटाए

[फंडिंग अलर्ट] क्लाउड किचन स्टार्टअप Curefoods ने फंडिंग में 50 मिलियन डॉलर जुटाए

[फंडिंग अलर्ट] क्लाउड किचन स्टार्टअप Curefoods ने फंडिंग में 50 मिलियन डॉलर जुटाए
Cloud kitchen platform Curefoods

क्लाउड किचन स्टार्टअप Curefoods Pvt Ltd ने नए और मौजूदा निवेशकों के मिश्रण से सीरीज सी फंडिंग राउंड में 50 मिलियन डॉलर जुटाए हैं।

इस फंडिंग राउंड के साथ कंपनी ने अब तक इक्विटी और वेंचर डेट में 120 मिलियन डॉलर से अधिक जुटाए हैं।

नियामक फाइलिंग के अनुसार मौजूदा निवेशकों Chirate Ventures ने लगभग 1.6 मिलियन डॉलर का निवेश किया, जबकि Accel India ने 3.9 मिलियन डॉलर और Iron Pillar ने 10 मिलियन डॉलर का निवेश किया।

स्टार्टअप ने अपने अधिग्रहीत ब्रांडों के नए भौगोलिक क्षेत्रों में विस्तार और नए ब्रांडों के अधिग्रहण के लिए धन का उपयोग करने की योजना बनाई है।

बेंगलुरु स्थित Curefoods की स्थापना 2020 में अंकित नागोरी ने की थी, यह थ्रेसियो-शैली के मॉडल का अनुसरण कर रहा है जिसमें यह मध्यम आकार के खाद्य ब्रांडों का अधिग्रहण करता है।

स्टार्टअप ने अब तक जूनो पिज्जा, केकज़ोन, आइसबर्ग, मसालाबॉक्स और व्हाइट किचन, होमप्लेट जैसे छोटे और मध्यम आकार के ब्रांडों का मिश्रण हासिल किया है।

जनवरी 2022 में Curefoods ने अपने मौजूदा निवेशकों Iron Pillar, Chiratae Ventures, Sixteenth Street Capital, Accel Partners और Binny Bansal से फंडिंग राउंड में 62 मिलियन डॉलर जुटाए थे।

इस साल की शुरुआत में CureFoods का प्रतिद्वंद्वी Maverix के साथ विलय हो गया और संयुक्त इकाई के पास दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु सहित 12 शहरों में लगभग 125 क्लाउड किचन हैं। इससे पहले इसने मिल्कशेक ब्रांड फ्रोजन बॉटल में बहुलांश हिस्सेदारी हासिल कर ली थी और यूएस-आधारित विरासत पिज्जा श्रृंखला सबेरो के लिए दक्षिण भारत फ्रेंचाइजी अधिकार खरीदे थे।

Curefoods के बारे में

Curefoods में उनका उद्देश्य ईमानदार भोजन बनाना है जो ग्राहकों को पसंद आए खाद्य ब्रांडों को इनक्यूबेट करके और अत्याधुनिक क्लाउड किचन का संचालन करके वे एक स्थायी तरीके से अच्छे भोजन तक पहुंच का लोकतंत्रीकरण करना चाहते हैं।

वे अच्छे भोजन की शक्ति में विश्वास करते हैं अच्छे भोजन की शक्ति जो हमें खुश और स्वस्थ बनाती है। वे भोजन प्रदान करते हैं जो उनकी पोषण संबंधी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए प्रतिदिन उनके ग्राहकों के पैलेट के अनुरूप हो सकता है।

वे वर्तमान में ईटफिट, युमलेन, अलीगढ़ हाउस बिरयानी, मसालाबॉक्स, केकज़ोन, ग्रेट इंडियन खिचड़ी, अम्मिस बिरयानी, कैंटीन सेंट्रल, होमप्लेट जैसे कुछ नाम के ब्रांड संचालित करते हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

सूचना-पत्र

हमारे साप्ताहिक सूचना-पत्र की सदस्यता लें और नवीनतम अपडेट्स को देखना ना भूलें।